अंतरराष्ट्रीय योग दिवस 2021: थीम, इतिहास | International Day For Yoga 2021 in Hindi

अंतरराष्ट्रीय योग दिवस 2021: विश्व योग दिवस हर वर्ष 21 June को मनाया जाता है।

दोस्तों, आजकल की भागदौड़ तथा जिम्मेदारियों से भरी ज़िन्दगी में इन्सान अपने स्वस्थ्य की ओर ध्यान नहीं दे पाता। कभी-कभी कार्य जीवन और व्यक्तिगत जीवन के बीच संतुलन बनाए रखना भी मुश्किल हो जाता है तथा इन्सान तनाव से ग्रस्त हो जाता है।

योग व्यक्ति के शरीर, मन और आत्मा को नियंत्रित करने में मदद करता है। और साथ में यह शारीरिक और मानसिक अनुशासन लाता है जो शरीर और मन के लिए बेहतर है।

विश्व योग दिवस, इंटरनेशनल योग दिवस

भारत में योग प्राचीन काल से अभ्यास किया जा रहा है। अब विदेशों में भी लोग योग की महत्वता को जान चुके हैं तथा योग को अपनी जीवन शैली का हिस्सा बना रहे है। 

इसी को देखते हुए सन 2014 में संयुक्त राष्ट्र द्वारा वैश्विक स्वास्थ्य, सद्भाव और शांति के लिए 21 जून को अंतरराष्ट्रीय योग दिवस (International Day For Yoga) घोषित किया गया था तथा 21 जून 2015 को पहली बार विश्व योग दिवस मनाया गया। 

इसका आधिकारिक नाम अन्तररो योग दिवस है तथा इसको योग दिवस (Yoga Day) या विश्व योग दिवस (World Yoga Day) के नाम से भी कहा जाता है।

अंतरराष्ट्रीय योग दिवस 2021 की थीम क्या है? 

जैसा की हम सब को पता है कि संसार इस समय वैश्विक महामारी से गुजर रहा है जिसने लोगों का जीवन अस्त व्यस्त कर दिया है।

योग इंसान के शारीरिक स्वस्थ्य के साथ साथ मानशिक स्वस्थ्य को बनाये रखने में सक्षम है। और जिस तरह से आजकल की स्तिथि है लोग ज्यादा तनाव ग्रस्त होते जा रहे हैं।

इसी विषय को ध्यान में रखते हुए संयुक्त राष्ट्र ने विश्व योग दिवस 2021 की थीम रखी है “कल्याण के लिए योग”  

अंतरराष्ट्रीय योग दिवस 2021 की थीम  – ‘कल्याण के लिए योग’ (Yoga for Well-Being) 

विश्व योग दिवस की शुरुआत कब हुई?

27 सितंबर 2014 को भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा संयुक्त राष्ट्र महासभा में अपने दिए गए भाषण में अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस मनाने का प्रस्ताव रखा, जिसमें उन्होंने यह कहा  – 

“योग भारत की प्राचीन परम्परा का एक अमूल्य उपहार है यह दिमाग और शरीर की एकता का प्रतीक है; मनुष्य और प्रकृति के बीच सामंजस्य है; विचार, संयम और पूर्ति प्रदान करने वाला है तथा स्वास्थ्य और भलाई के लिए एक समग्र दृष्टिकोण को भी प्रदान करने वाला है। यह व्यायाम के बारे में नहीं है, लेकिन अपने भीतर एकता की भावना, दुनिया और प्रकृति की खोज के विषय में है। हमारी बदलती जीवन- शैली में यह चेतना बनकर, हमें जलवायु परिवर्तन से निपटने में मदद कर सकता है। तो आयें एक अंतरराष्ट्रीय योग दिवस को गोद लेने की दिशा में काम करते हैं।”  नरेन्द्र मोदी- संयुक्त राष्ट्र महासभा 

इससे  संयुक्त राष्ट्र के 177 सदस्य देशों द्वारा 11 दिसम्बर 2014 को मंजूरी मिलने बाद 21 जून को अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस के रूप में घोषित किया गया। 

भारत द्वारा दिये गये प्रस्ताव को यू.एन. के द्वारा मात्र 90 दिनों में ही लागू कर दिया गया था। यह भारत के लिए भी ऐतिहासिक था क्युकी इस प्रस्ताव को संयुक्त राष्ट्र द्वारा सबसे कम समय में पारित किया गया था। 

अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस का उद्देश्य क्या है?

योग दिवस पूरे विश्व में किसी उत्सव की तरह मनाया जाता है। इस दिन का उद्देश्य लोगों को योग के अभ्यास से प्राप्त होने वाले शारीरिक, मानसिक और आध्यात्मिक लाभों के बारे में शिक्षित करना है।

अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस विश्व के लोगों को स्वस्थ जीवन जीने तथा समाज में शांति और सद्भाव से रहने के प्रति जागरूक करता है। 

योग सकारात्मक रूप से लोगों की जीवनशैली में बदलाव लाता है और सेहत के स्तर को बढ़ाता है।

विश्व योग दिवस योग के निम्न लाभों से लोगों को अवगत कराता है –

  • योग के अभ्यास से शारीरिक स्वास्थ्य का विकास होता है।
  • योग से  मानसिक स्वास्थ्य का विकास होता है।
  • इससे आध्यात्मिक ज्ञान का विकास होता है।
  • योग आत्म-चिकित्सा को बढ़ावा देता है।
  • शरीर से विषाक्त पदार्थों और दिमाग से नकारात्मकता को निकालता है।
  • योग से आत्म-जागरूकता बढ़ती है।
  • योग शरीर की इम्यूनिटी बूस्ट करता।
  • व्यक्तिगत शक्ति को बढ़ाता है।
  • योग करने से एकाग्रता और ध्यान बढ़ता है।
  • योग शरीर में तनाव को कम करने में मदद करता है। 

अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस 2021 की थीम  | World Yoga Day 2021 Theme in Hindi

विश्व योग दिवस की थीम्स की सूची –

अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस वर्षथीमTheme
अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस थीम 2021“कल्याण के लिए योग”Yoga for well-being
अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस थीम 2020“स्वास्थ्य के लिए योग – घर पर योग”Yoga at Home and Yoga with Family
अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस थीम 2019“क्लाइमेट एक्शन”Yoga For Climate action
अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस थीम 2018“शांति के लिए योग”Yoga for Peace
अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस थीम 2017“स्वास्थ्य के लिए योग”Yoga for Health
अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस थीम 2016“युवाओं को जोड़ें”Yoga for the achievement of the Sustainable Development Goals
अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस थीम 2015“सामंजस्य और शांति के लिये योग”Yoga for Harmony and Peace

विश्व योग दिवस 2021 के लिए योग आसन 

वैसे तो आपको प्रतिदिन योग करना चाहिए। यह आपको शारीरिक व मानसिक तौर पर स्वस्थ रखता है। परन्तु विश्व योग दिवस के अवसर पर कुछ योग आसन हैं जिनको आप आसानी से कर सकते हैं।

1 हस्तउत्तान आसन 

हस्तउत्तान आसन के फायदे

हस्तउत्तान आसन को करने की प्रक्रिया- 

  • सबसे पहले अपने दोनों पैरों को एक साथ मिलाकर सीधे खड़े हो जाएं।
  • अब अपने दोनों हाथों की उँगलियों को फसांकर सामने की तरफ हाथों को सीधा करें।
  • इसके बाद अपने दोनों हाथों को सांस लेते हुए एक साथ सिर के ऊपर ले जाएं।
  • अब अपनी गर्दन को पीछे की ओर मोड़कर हथेलियों की ओर देखें।
  • याद रहे अपने शरीर को उतना ही पीछे की ओर मोडें जितना आप मोड़ सकें।
  • इस प्रक्रिया के दौरान सांस लेते और छोड़ते रहें।

2 त्रिकोण आसन 

त्रिकोण असना  के फायदे

त्रिकोण असना को करने की प्रक्रिया- 

  • सीधे खड़े होकर अपने दोनों पैरों को फैला लें।
  • अपने दायें पैर को हल्का सा दाईं ओर मोड़ लें।
  • अब अपने दोनों हाथों को कंधे की उचाई तक फैला लें।
  • अब सांस लें और अपनी नजर को सीधे रख के अपनी राईट साइड झुके।
  • इसके बाद अपने दायें हाथ से दायें पैर को छूने की कोशिश करे।
  • अपना बायाँ हाथ सीधा आकाश की और रखे और नजर बायें हाथ की उंगलियों की और रखे।
  • अब वापस सीधा खड़े हो जायें और इसे अपनी दूसरी ओर से करें।
  • इस प्रक्रिया को 10 से 15 बार करें ।
  • ऊपर उठते समय सांस अन्दर ले औए झुकते समय सांस छोड़े।

3 उत्तानपादासन

उत्तानपदासना के फायदे

उत्तानपदासना को करने की प्रक्रिया-  

  • सबसे पहले जमीन पर पीठ के बल लेट जाएं।
  • लेटने के बाद अपने दोनों पैरों को सीधा कर लें और अपने शरीर को ढीला छोड़ दें।
  • अब हथेलियों को जमीन पर रखें और पैरों को लगभग 45 से 60 डिग्री के कोण मे धीरे-धीरे ऊपर की ओर उठाएं।
  • पैरों को ऊपर उठाने के बाद सांस रोके और जितना हो सके इस स्थिति में रुकने की कोशिश करें।
  • अब सांस छोड़ते हुए धीरे-धीरे पैरों को नीचे की ओर करें।

4 सेतुबंधासन 

सेतुबंधासन के फायदे

सेतुबंधासन को करने की प्रक्रिया-

  • सेतुबंधासन करने के लिए जमीन पर अपनी पीठ के बल सीधे लेट जायें तथा अपने हाथों को शरीर के साथ रख लें।
  • इसके बाद टाँगों को घुटनों से मोड़ कर पैरों को पीछे की ओर लायें।
  • फिर अपने हाथों और पैरों के सहारे से अपने कमर को ऊपर उठायें।
  • ऐसा करते वक़्त सांस अंदर लें।
  • पीठ जितनी मोडी जाए, उतनी ही मोड़ें।
  • इसके बाद कमर को वापस जमीन पे लेके आये तथा सांस बाहर छोडें। 

5 पश्चिमोतासना

पस्चिमोतासना के फायदे,. अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस

पस्चिमोतासना को करने की प्रक्रिया-

  • अपने पैरों को बहार की ओर सीधा रख कर जमीन पर बैठ जायें।
  • दोनों पैर साथ में चिपका क रखें।
  • अब सांस लें, अपने हाथों को ऊपर उठाएं और अपने शरीर को आगे की ओर झुकाएं।
  • जब आप आगे की ओर झुक रहे होंगे तब धीरे धीरे सांस छोडें।
  • अपने हाथों से पैरों को तथा नाक से घुटनों को छूने की कोशिश करें।
  • जितना आप से हो सकता है उतना ही करें।   

दोस्तों आशा करता हूँ आपको अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस 2021 के बारे में सम्पूर्ण जानकारी मिल गयी होगी। 

मेरा आपसे अनुरोध है की आप भी एक स्वस्थ व निरोगी जीवन जीने के लिए  योग को अपनी जीवन शैली में लेकर आएं तथा अपने आस पास के लोगो को भी योग का महत्व बताएं। 

FAQs – International Day For Yoga 2021 in Hindi 

पहला अंतरराष्ट्रीय योग दिवस कब मनाया गया था?

पहला अंतरराष्ट्रीय योग दिवस 21 जून 2015 को मनाया गया था। इसकी थीम “सामंजस्य और शांति के लिये योग” थी। 

अंतरराष्ट्रीय योग दिवस 21 जून को ही क्यों मनाया जाता है?

भारतीय संस्कृति के अनुसार, ग्रीष्म संक्रांति के बाद सूर्य दक्षिणायन हो जाता है। 21 जून साल का सबसे बड़ा दिन माना जाता है। इस दिन सूर्य जल्दी उदय होता है और देर से ढलता है इसीलिए ही 21 जून को अंतरराष्ट्रीय योग दिवस मनाया जाता है।

अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस 2021 की थीम क्या है

हर वर्ष विश्व योग दिवस की अलग थीम होती है। कोविद-19 महामारी को ध्यान में रखते हुए इस वर्ष संयुक्त राष्ट्र द्वारा अन्तराष्ट्रीय योग दिवस 2021 की थीम कल्याण के लिए योग (Yoga for well-being) है। 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *