असम के राष्ट्रीय उद्यान की सूची (Updated)| National Parks in Assam in Hindi 2023

5/5 - (1 vote)

असम के राष्ट्रीय उद्यान– असम भारत का उत्तरी-पूर्व राज्य है। असम जैव विविधता से सम्पूर्ण राज्य है जिसकी 35% से ज्यादा भूमि वनों के अंतर्गत आती है।

राज्य में कई लुप्तप्राय प्रजातियाँ जैसे बाघ, गैंडा (Rhinoceros) और हाथी पाई जाती हैं जो असम के राष्ट्रीय उद्यानों में संरक्षित हैं।

जून 2021 में भारत सरकार द्वारा 2 नये राष्ट्रीय उद्यान घोषित करने के बाद असम में राष्ट्रीय उद्यानों की कुल संख्या 7 हो गयी है।

काजीरंगा नेशनल पार्क, मानस नेशनल पार्क, नेमरी नेशनल पार्क, डिब्रू सैखोवा नेशनल पार्क, राजीव गाँधी ओरंग नेशनल पार्क, देहिंग पटकाई नेशनल पार्क, रायमोना नेशनल पार्क असम राज्य के 7 राष्ट्रीय उद्यान हैं।

काजीरंगा राष्ट्रीय उद्यान क्षेत्रफल की दृष्टि से असम का सबसे बड़ा राष्ट्रीय उद्यान है तथा ओरंग राष्ट्रीय उद्यान असम का सबसे छोटा राष्ट्रीय उद्यान है।

असम के 7 राष्ट्रीय उद्यान

काजीरंगा राष्ट्रीय उद्यान | Kaziranga National Park

काजीरंगा राष्ट्रीय उद्यान असम के गोलाघाट, कारबी आंगलोंग तथा नागों डिस्ट्रिक्ट में फैला हुआ है। यह राष्ट्रीय उद्यान 858.98 sq-km में फैला हुआ है।

यह एक सिंग वाले गेंडे (one-horned rhinoceros) विश्व भर में प्रसिद्ध है। दुनिया के करीब दो तिहाई से ज्यादा rhinoceros काजीरंगा राष्ट्रीय उद्यान में ही पाए जाते हैं।

वर्ष 1968 में राज्य सरकार द्वारा असम राष्ट्रीय उद्यान एक्ट पारित किया गया था। इसी के अंतर्गत काजीरंगा को एक राष्ट्रीय उद्यान नामित किया गया।

1974 में काजीरंगा को केंद्रीय सरकार द्वारा नेशनल पार्क घोषित कर दिया गया।

काजीरंगा नेशनल पार्क को 1985 में UNESCO द्वारा भारत का विश्व विरासत स्थल (World Heritage Site) भी घोषित किया गया है।

एक सींग वाला गैंडा, बंगाल टाइगर, एशियाई हाथी, हीरण और जंगली भैंस काजीरंगा नैतिओनल पार्क में पाए जाने वाले मुख्या जानवर हैं। इन पाच जानवरों को “Big Five of Kaziranga” भी कहा जाता है।

  • स्थापना- 1974
  • क्षेत्रफल- 858.98 sq-km
  • जिला- गोलाघाट, कारबी आंगलोंग तथा नागों

मानस राष्ट्रीय उद्यान | Manas National Park

मानस राष्ट्रीय उद्यान असम के चिरांग तथा बक्सा डिस्ट्रिक्ट में फैला हुआ है। इसका क्षेत्रफल 500 sq-km है। मानस नेशनल अपार्क की स्थापना 1990 में की गयी थी। पहले यह एक अभ्यारण तथा जीवमंडल रिज़र्व था।

यह एक world heritage site है। UNESCO द्वारा 1985 में इसको India’s world heritage site घोषित किया गया था।

इस नेशनल पार्क का नाम मानस नदी के ऊपर पड़ा है। मानस नदी इस नेशनल पार्क के बीच में से होकर गुजरती है।

मानस नेशनल पार्क जंगली भैंस, गोल्डन लंगूर, कछुआ आदि जानवरों के पाए जाने के लिए प्रसिद्ध है।

मानस राष्ट्रीय उद्यान असम का पहला टाइगर रिज़र्व भी है। इसको 1974 में Tiger Reserve घोषित किया गया था।

  • स्थापना- 1974
  • क्षेत्रफल- 500 sq-km
  • डिस्ट्रिक्ट- चिरांग और बक्सा

नमेरी राष्ट्रीय उद्यान | Nameri National Park

नामेरी राष्ट्रीय उद्यान असम के सोनितपुर जिले में स्थित है। यह नेशनल पार्क 200 sq-km में फैला हुआ है। नामेरी नेशनल पार्क को वर्ष 2000 में एक टाइगर रिज़र्व भी घोषित किया गया है। यह मानस के बाद असम का दूसरा टाइगर रिज़र्व है।

नामेरी नेशनल पार्क की स्थापना 1998 में हुई थी।

बंगाल टाइगर, तेंदुआ, हीरण, सांभर आदि नामेरी नेशनल पार्क में पाए जाने वाले जानवर हैं। इस राष्ट्रीय उद्यान में White Winged Wood Duck पाई जाती है। इसको देव हंश भी कहते हैं। इसके साथ साथ यहाँ फूलों की 600 से ज्यादा प्रजाति भी पाई जाती हैं।

  • स्थापना- 1998
  • क्षेत्रफल- 200 sq-km
  • जिला- सोनितपुर

डिब्रू सैखोवा राष्ट्रीय उद्यान | Dibru Saikhowa National Park

डिब्रू सैखोवा राष्ट्रीय उद्यान असम के डिब्रूगढ़ तथा तिनसुकिया जिले में स्थित है। यह एक Biosphere reserve भी है। इसका क्षेत्रफल 340 sq-km है।

इस राष्ट्रीय उद्यान की स्थापना 1999 में हुई थी। डिब्रू सैखोवा नेशनल पार्क ब्रह्मपुत्र नदी के दक्षिणी तट पर स्थित है तथा यहाँ से डिब्रू नदी भी बहती है।

पूर्वोतर भारत में सबसे ज्यादा दलदलीय वन (Salix Swamp Forest) डिब्रू सैखोवा में ही पाए जाते हैं।

BirdLife International ने इस राष्ट्रीय उद्यान को एक महत्वपूर्ण पक्षी बहुमूल्य क्षेत्र घोषित किया है।

लंगूर, हूलॉक गिब्बन, एशियाई हाथी, जंगली सूअर, सांभर हिरण आदि डिब्रू सैखोवा में पाए जाएं वाले मुख्या जानवर हैं।

  • स्थापना- 1999
  • क्षेत्रफल- 340 sq-km
  • जिला- डिब्रूगढ़ तथा तिनसुकिया

ओरंग नेशनल पार्क | Orang National Park

ओरंग राष्ट्रीय उद्यान असम के दरांग और सोनितपुर जिलों में ब्रह्मपुत्र नदी के उत्तरी तट पर स्थित है। यह असम का सबसे छोटा नेशनल पार्क है। यह 78.81 sq-km के क्षेत्र में फैला हुआ है।

इसे 1985 में एक वन्यजीव अभयारण्य के रूप में स्थापित किया गया था और 1999 में राष्ट्रीय उद्यान घोषित किया गया।

ओरंग राष्ट्रीय उद्यान को छोटा काजीरंगा के नाम से भी जाना जाता है। यह पचनोई, बलसिरी और धनसिरी नदियों से घिरा हुआ है।

दुर्लभ जीव जन्तुओ से समृद्ध ओरंग नेशनल पार्क में गंगेटिक डॉलफिन, ब्रह्मिनी बताक तथा कछुए की प्रजाति देखने को मिलती है।

  • स्थापना- 1999
  • क्षेत्रफल- 78.81 sq-km
  • जिला- दरांग और सोनितपुर

रायमोना राष्ट्रीय उद्यान | Raimona National Park

रायमोना राष्ट्रीय उद्यान असम के बोडोलैंड प्रादेशिक क्षेत्र (B.T.R.) के अंतर्गत आता है। यह नेशनल पार्क 422 sq-km के क्षेत्र में फैला हुआ है। रायमोना नेशनल पार्क की स्थापना 2021 में की गयी थी।

यह राष्ट्रीय उद्यान पश्चिम में सोनकोश नदी और पूर्व में सरलभंगा नदी से घिरा हुआ है।

रायमोना नेशनल पार्क में Golden Langur के पाए जाने के लिए प्रसिद्ध है।

इसके साथ साथ यहाँ एशियाई हाथी, रॉयल बंगाल टाइगर, क्लाउडेड लेपर्ड, इंडियन गौर, जंगली जल भैंस, चित्तीदार हिरण, हॉर्नबिल, तितलियों की 150 से अधिक प्रजातियां, पक्षियों की 170 प्रजातियां, पौधों की 380 किस्में और ऑर्किड भी पाई जाती हैं।

  • स्थापना- 2021
  • क्षेत्रफल- 422 sq-km
  • जिला- बोडोलैंड प्रादेशिक क्षेत्र (B.T.R.)

देहिंग पटकाई नेशनल पार्क | Dehing Patkai National Park

देहिंग पटकाई राष्ट्रीय उद्यान असम के डिब्रूगढ़ और तिनसुकिया जिले में स्थित है। यह असम का 7वां राष्ट्रीय उद्यान है। यह नेशनल पार्क 231.65 sq-km क्षेत्र में फैला हुआ है।

2014 में देहिंग पटकाई नेशनल पार्क असम सरकार ने wildlife sanctuary घोषित किया था। 2021 में इसको पूर्ण रूप से नेशनल पार्क घोषित कर दिया गया।

देहिंग पटकाई राष्ट्रीय उद्यान भारत में तराई के वर्षावनों का सबसे बड़ा खंड है। देहिंग पटकाई वन्यजीव अभयारण्य को Project Elephant के तहत देहिंग पटकाई हाथी रिजर्व घोषित किया गया था।

इस wildlife sanctuary को जेय्पोरे वर्षावन के नाम से भी जाना जाता है।

इस नेशनल पार्क में जंगली बिल्लियों की सात विभिन्न प्रजातियाँ बाघ, तेंदुआ, clouded leopard, तेंदुआ बिल्ली, सुनहरी बिल्ली, जंगली बिल्ली और marbled cat पायी जाती हैं।

देहिंग पटकाई राष्ट्रीय उद्यान में दुर्लभ लुप्तप्राय व्हाइट विंग्ड वुड डक भी पायी जाती हैं।

  • स्थापना- 2021
  • क्षेत्रफल- 231.65 sq-km
  • जिला – डिब्रूगढ़ और तिनसुकिया

List of National Parks in Assam in Hindi

स. असम के राष्ट्रीय उद्यान स्थापना क्षेत्रफल जिला
1काजीरंगा राष्ट्रीय उद्यान1974858.98 sq-kmगोलाघाट, कारबी आंगलोंग तथा नागों
2मानस राष्ट्रीय उद्यान1974500 sq-km चिरांग और बक्सा
3नामेरी राष्ट्रीय उद्यान1998 200 sq-kmसोनितपुर
4डिब्रू सैखोवा राष्ट्रीय उद्यान1999340 sq-kmडिब्रूगढ़ तथा तिनसुकिया
5ओरंग राष्ट्रीय उद्यान 199978.81 sq-kmदरांग और सोनितपुर
6रायमोना राष्ट्रीय उद्यान2021422 sq-kmबोडोलैंड प्रादेशिक क्षेत्र (B.T.R.)
7देहिंग पटकाई राष्ट्रीय उद्यान2021231.65 sq-kmडिब्रूगढ़ और तिनसुकिया

यह भी पढ़ें –

असम के नेशनल पार्क्स – MAP

pc – dristiias

असम के राष्ट्रीय उद्यान – FAQs

1- असम में कितने राष्ट्रीय उद्यान?

असम में कुल साथ राष्ट्रीय उद्यान हैं। काजीरंगा नेशनल पार्क, मानस नेशनल पार्क, नेमरी नेशनल पार्क, डिब्रू सैखोवा नेशनल पार्क, राजीव गाँधी ओरंग नेशनल पार्क, देहिंग पटकाई नेशनल पार्क, रायमोना नेशनल पार्क असम राज्य के 7 राष्ट्रीय उद्यान हैं।

2- असम का सातवां नेशनल पार्क कौन है?

देहिंग पटकाई नेशनल पार्क असम का सातवां नेशनल पार्क है। इसकी स्थापना असम सरकार द्वारा जून 2021 में की गयी थी।

3- असम का सबसे बड़ा राष्ट्रीय उद्यान कौन सा है?

असम का सबसे बड़ा राष्ट्रीय उद्यान काजीरंगा राष्ट्रीय उद्यान है। इसका क्षेत्रफल 858.98 sq-km है तथा इसकी स्थापना 1974 में की गयी थी।

4- एक सींग वाला गेंडा कौन से राष्ट्रीय उद्यान में पाया जाता है?

एक सिंह वाला गेंडा असम के काजीरंगा नेशनल पार्क में पाया जाता है।

3 thoughts on “असम के राष्ट्रीय उद्यान की सूची (Updated)| National Parks in Assam in Hindi 2023”

Leave a Comment